विपक्षी गठबंधन इंडिया ने बनाई ‘टीम 14’

मुंबई . मध्यावधि चुनावों की चर्चा के बीच विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ की तीसरी बैठक शुक्रवार को ‘जुड़ेगा भारत, जीतेगा इंडिया’ थीम के साथ संपन्न हुई. बैठक में गठबंधन की सर्वोच्च इकाई के रूप में 14 सदस्यीय एक महत्वपूर्ण समन्वय समिति गठित की गई, जिसमें कई दलों के प्रमुख नेता शामिल हैं.

इस दौरान घटक दलों के नेताओं ने संकल्प लिया कि वे अगला लोकसभा चुनाव मिलकर लड़ेंगे. साथ ही सीटों के बंटवारे को 30 सितंबर तक अंतिम रूप दे दिया जाएगा. विपक्षी गठबंधन ने संकेत दिया कि वह एनडीए के खिलाफ किसी चेहरे पर दांव लगाने की बजाय मुद्दों को आगे करके जनता के बीच जाएगा. बैठक के बाद सभी नेताओं ने अपनी-अपनी बात रखी.

मुंबई के एक पंचसितारा होटल में 28 दलों के 68 प्रतिनिधियों की दो दिवसीय मंत्रणा के बाद विपक्षी दलों ने 14 सदस्यीय समन्वय समिति, 19 सदस्यीय चुनाव अभियान समिति, सोशल मीडिया से संबंधित 12 सदस्यीय कार्य समूह, मीडिया के लिए 19 सदस्यीय कार्यसमूह और शोध के लिए 11 सदस्यीय समूह का गठन किया गया.

हमें प्रतिशोध की कार्रवाई के लिए तैयार रहना होगा बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने विपक्षी गठबंधन इंडिया के घटक दलों के नेताओं का आह्वान कि वे आने वाले कुछ महीनों में प्रतिशोध की और कार्रवाई, छापेमारी तथा गिरफ्तारी के लिए तैयार रहें. क्योंकि, यह गठबंधन जमीन पर जितना मजबूत होगा, सरकार उसके खिलाफ कानून प्रवर्तन एजेंसियों का उतना ही ज्यादा दुरुपयोग करेगी. उन्होंने विपक्षी गठबंधन की तीसरी बैठक में यह आरोप भी लगाया कि भाजपा सभी एजेंसियों और संस्थाओं पर पूर्ण नियंत्रण चाहती है. इसके खिलाफ लड़ने के लिए इंडिया का जीतना जरूरी है. हम हर राज्य की राजधानी में बैठक करेंगे.

सरकार महंगाई रोकने में विफल कांग्रेस अध्यक्ष ने सरकार पर महंगाई और बेरोजगारी रोकने में विफल रहने का भी आरोप लगाया. अडानी समूह से जुड़े मामले में राहुल गांधी की प्रेस वार्ता का उल्लेख करते हुए खड़गे ने कहा, यह समझ से परे है कि प्रधानमंत्री इस मामले की जांच क्यों नहीं करा रहे हैं. प्रधानमंत्री गरीबों के लिए काम नहीं करेंगे, वह सिर्फ कुछ उद्योगपतियों के लिए काम करते हैं. मणिपुर हिंसा के समय विशेष सत्र नहीं बुलाया, कोरोना के समय नहीं बुलाया, चीन ने जमीन हड़प ली तो विशेष सत्र नहीं बुलाया, अब क्यों बुलाया, मुझे पता नहीं. वह तानशाही की तरफ जा रहे हैं.

ये संकल्प लिए गए

  1. लोकसभा चुनाव मिलकर लड़ेंगे. सीट बंटवारे का काम ‘इस हाथ दे, उस हाथ ले’ की सहयोगात्मक भावना से जल्द पूरा किया जाएगा.

 

  1. राज्यों में सीट-बंटवारे की व्यवस्था तुरंत शुरू होगी. लेन-देन की भावना के साथ जल्द पूरा किया जाए.

 

  1. जनहित से जुड़े मुद्दों पर जल्द ही देशभर में जनसभाएं आयोजित करने का भी संकल्प लिया.

 

  1. कई भाषाओं में ‘जुड़ेगा इंडिया, जीतेगा इंडिया’ थीम के साथ रणनीतियों और अभियानों पर समन्वय करेंगे.

 

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button