पाकिस्तान: आतंकी हमले में 23 सैनिकों की मौत

23 soldiers killed in terrorist attack in Pakistan: सेना की मीडिया शाखा ‘इंटर-र्सिवसेज पब्लिक रिलेशंस’ ने कहा कि दक्षिण वजीरिस्तान कबायली जिले की सीमा से लगे अशांत डेरा इस्माइल खान जिले में प्रवेश करने के उनके मंसूबों को ‘प्रभावी ढंग से विफल’ कर दिए जाने के बाद आतंकवादियों ने विस्फोटकों से भरे वाहन को चौकी की इमारत में टक्कर मार दी.

इस हमले के बाद आत्मघाती हमला भी किया गया जिसके कारण इमारत ढह गई और कई लोग हताहत हुए. सेना ने कहा कि 12 दिसंबर की सुबह डेरा इस्माइल खान के दरबान इलाके में छह आतंकवादियों के एक समूह ने सुरक्षा बलों की चौकी पर हमला कर दिया, जिसमें कम से कम 23 सैनिक मारे गए. आधिकारियों ने बताया कि सुरक्षा बलों ने सभी हमलावरों को मार गिराया जबकि पुलिस की नयी टुकड़ियों को घटनास्थल पर भेजा गया और बाद में तलाशी अभियान शुरू किया गया.

तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) से संबंद्ध और नवगठित आतंकवादी संगठन तहरीक-ए-जिहाद पाकिस्तान (टीजेपी) ने इस हमले की जिम्मेदारी ली. इसके प्रवक्ता मुल्ला कासिम ने इस हमले को आत्मघाती मिशन (फिदायीन हमला) करार दिया. पुलिस ने कहा कि मृतक संख्या बढ.ने की आशंका है क्योंकि हमले में घायल कई लोगों की हालत गंभीर है.

हमले के कारण जिले के अस्पतालों में आपातकाल घोषित कर दिया गया जबकि सभी स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए गए. पाकिस्तान में कुछ बड़े हमलों के पीछे इस आतंकी संगठन का हाथ रहा है. चार नवंबर को टीजेपी आतंकवादियों ने लाहौर से लगभग 300 किलोमीटर दूर पाकिस्तान वायु सेना के मियांवाली प्रशिक्षण वायुसेना अड्डे पर हमला किया था, जिसमें तीन विमान क्षतिग्रस्त हो गए.

देश में तीन अलग-अलग आतंकी हमलों में 17 सैनिकों के मारे जाने की घटना के एक दिन बाद हुई सेना की कार्रवाई में सभी हमलावर मारे गए. इस साल जुलाई में टीजेपी आतंकवादियों ने अशांत बलूचिस्तान प्रांत में झोब गैरीसन पर हमला किया जिसमें चार सैनिक मारे गए और पांच अन्य घायल हो गए.

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button