राजधानी के कचरा वाले गाड़ियों में धार्मिक भजन सुनाये जाएँ

रायपुर. कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पार्षद प्रत्याशी रहे संदीप तिवारी ने आज कहा कि राजधानी के प्रत्येक वार्ड के गली-गलियों में रोज स्वच्छता अभियान को लेकर निगम की कचरा वाली गाड़ियाँ चलाई जाती हैं. जिनमें शुरूआती समय से जिस गाने को बजाया जा रहा था आज पर्यंत वही रिकॉर्डिंग सुनाई जा रही है. उन्होंने राज्य शासन एवं निगम प्रशासन को एक पत्र जारी कर मांग की है कि कचरा वाले गाड़ियों में रोज सुबह-शाम धार्मिक भजन सुनाये जाएँ.

संदीप तिवारी ने जारी बयान में कहा, वर्तमान पीढ़ी को धर्म के प्रति सजग और जागरूकता लाने मंदिरों में पूजापाठ के अलावा अन्य माध्यमों से भी जोड़ने प्रयास होना चाहिए. जिस तरह से राजधानी में संचालित कचरा वाली गाड़ियों में ‘‘गाड़ी वाला आया कचरा निकाल’’ वर्षों से सुनाया जा रहा है. इससे लोग अब उब चुके हैं. इसके स्थान पर धार्मिक गीतसंगीत सुनाये जाने का चलन शुरू होना चाहिए. सामान्यतः हिन्दू धर्म में सुबह और शाम का समय पूजापाठ का होता है, ऐसे समय पर यदि धार्मिक धुन के साथ भजन और अन्य धार्मिक गानों से जुड़े संगीत का यदि कचरा वाली गाड़ियों में संचार होगा तो राजधानी की जनता इससे प्रसन्न भी होगी. उन्होंने कहा, वर्तमान नई पीढ़ी को धर्म से जोड़ने यह एक उचित माध्यम भी बनेगा. बारबार जब हिन्दू धर्म से जुड़े धार्मिक गीत एवं भजन को जब बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक सुनेंगे तो इस बात की चर्चा घर परिवार के सदस्यों के बीच होगी. हिन्दू धर्म का प्रचार इससे बड़ा माध्यम और कुछ नहीं हो सकता.

संदीप तिवारी ने इस सुझाव को लेकर बकायदा आज राज्य शासन में नगरीय निकाय मंत्री शिवकुमार डहरिया एवं निगम प्रशासन को पत्र भेजकर यथाशीघ्र इसे लागू किये जाने की मांग की है. उन्होंने कहा है, हिन्दू धर्म के प्रचार के लिए किसी तरह का कोई बाध्यकारी नहीं है और आम जनता की मांग है कि अधिक से अधिक सर्वधर्म में प्रचार हेतु इस तरह के प्रयास होने चाहिए. संदीप तिवारी ने कहा, वे इस मांग को लेकर नगरीय निकाय मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया से मुलाकात कर चर्चा भी करेंगे.

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button