एरीज के दो वैज्ञानिक भी सूर्य मिशन का हिस्सा

नैनीताल. दो सितंबर को लांच होने जा रहे भारत के पहले सूर्य मिशन आदित्य एल-1 की तैयारियां अंतिम चरण में हैं. नैनीताल स्थित आर्यभट्ट प्रेक्षण विज्ञान शोध संस्थान (एरीज) के पास आदित्य मिशन सपोर्ट सेल की अहम जिम्मेदारी है.

एरीज के निदेश्क डॉ.दीपांकर बनर्जी प्रोजेक्ट प्रभारी और युवा वैज्ञानिक डॉ. वैभव पंत सहायक प्रोजेक्ट प्रभारी की जिम्मेदारी निभा रहे हैं.

गोरखपुर के वैज्ञानिक ने टेलीस्कोप बनाया गोरखपुर भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) दो सितंबर को आदित्य एल-1 के प्रक्षेपण की तैयारी कर रहा है. इस मिशन में गोरखपुर के प्रो. दुर्गेश त्रिपाठी भी शामिल हैं. इंटर यूनिवर्सिटी सेंटर फॉर एस्ट्रोनॉमी एंड एस्ट्रोफिजिक्स पुणे में सोलर फिजिक्स के वैज्ञानिक प्रो. दुर्गेश की टीम ने ही सैटेलाइट में लगने वाला टेलीस्कोप तैयार किया है.

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button