बेकाबू संक्रमण के ओमिक्रॉन होने के पूरे आसार, सरकार को क्लस्टर की जीनोम सीक्वेंसिंग रिपोर्ट का इंतजार

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण बेकाबू हो चुका है। इसके कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन होने के पूरे आसार हैं। आधिकारिक पुष्टि के लिए रायगढ़ नवोदय विद्यालय और IIT भिलाई जैसे क्लस्टरों से जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए नमूनों की रिपोर्ट का इंतजार है। विशेषज्ञों का कहना है कि अभी तक यह वायरस कम खतरनाक दिख रहा है। ऐसे में अधिकतर संक्रमितों को बिना लक्षणों वाले या केवल बुखार और बदन दर्द की शिकायत आ रही है। 96-97% मरीज होम आइसोलेशन में ही ठीक हो जा रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बताया, अभी तक एक ही व्यक्ति की रिपोर्ट में ओमिक्रॉन की पुष्टि हुई है। वह भी एक महीने बाद मिली। तब तक मरीज ठीक भी हो चुका था। विशेषज्ञ कह रहे हैं कि जिस तरह का संक्रमण अभी मिल रहा है वह ओमिक्रॉन हो सकता है। उसके लक्षण कुछ वैसे ही दिख रहे हैं। अभी तक देखने में आ रहा है कि शुरुआती तीन दिन तक बुखार, सिर दर्द और बदन दर्द के साथ गले में खराश या जुकाम जैसे सामान्य लक्षण नजर आ रहे हैं।

अधिकतर लोगों में ऐसे लक्षण भी नहीं दिख रहे है और बेहद सामान्य दिख रहे हैं। ऐसे में बहुत पैनिक होने की जरूरत नहीं है। सावधानी बरतकर संक्रमण बढ़ने से रोकने की कोशिश करनी है। फिलहाल छत्तीसगढ़ में रोजाना 50 हजार लोगों की जांच करने की कोशिश की जा रही है, ताकि समय पर संक्रमण की पहचान की जा सके।

अधिकारियों ने बताया, ओमिक्रॉन और किसी दूसरे वैरिएंट की पहचान के लिए हर महीने जिलों में लिए गए कुल नमूनों का 5% भुवनेश्वर लैब में भेजा जाता है। विदेशों से लौटकर छत्तीसगढ़ आए लोगों के सैंपल भी वहां भेजे गए हैं। एक क्लस्टर में बड़ी संख्या में मरीज मिलने पर उनके नमूने भी भुवनेश्वर भेजे जा रहे हैं।

संडे इफेक्ट, 31 हजार जांच ही हो पाई

स्वास्थ्य विभाग ने रविवार को केवल 31 हजार 71 नमूनों की जांच हुई। वहीं 2502 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दर 8.05% है। अब प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या 15 हजार 464 हो गई है। सबसे अधिक 4803 मरीज रायपुर जिले में ही हैं। उसके बाद बिलासपुर, कोरबा, रायगढ़ और दुर्ग का नंबर है।

दो मरीजों की मौत हुई

जांजगीर-चांपा और बस्तर में रविवार को दो मरीजों की इलाज के दौरान मौत हो गई। इन दोनों को कोरोना के अलावा दूसरी भी गंभीर बीमारियां थीं। इनको मिलाकर कोरोना से अब तक 13 हजार 615 लोगों की जान जा चुकी है। छत्तीसगढ़ में मार्च 2020 से अब तक कुल 10 लाख 23 हजार 313 लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं।

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button