फूलों देवी नेताम ने बस्तर संभाग में केन्द्रीय आदिवासी विश्वविद्यालय खोलेने की मांग की

Phool Devi Netam demanded to open Central Tribal University in Bastar division

रायपुर। राज्यसभा सांसद फूलोदेव नेताम ने आज संसद भवन में विशेष उल्लेख नियम के तहत छत्तीसगढ के bastar संभाग में केन्द्रीय आदिवासी विश्वविद्यालय खोलने की मांग की।

bastar


नेताम ने कहा कि बस्तर संभाग आदिवासी बहुल क्षेत्र है जहां पर आदिवासी समुदायों की विभिन्न सभ्यता, संस्कृति, भाषा, रहन-सहन, खान-पान के साथ-साथ चिकित्सा हेतु विभिन्न जडी-बूटियों से बनी दवाओं आदि का समावेश देखने को मिलता है। आदिवासियों छात्रों को इन सभी का ज्ञान भी आवश्यक होता है और अन्य छात्रों को भी इनकी जानकारी होनी चाहिए।
नेताम ने कहा कि बस्तर संभाग में केन्द्रीय आदिवासी विश्वविद्यालय की आवश्यकता है।

वर्तमान में जगदलपुर में शहीद महेन्द्र कर्मा विश्वविद्यालय संचालित है जिसे भी केन्द्रीय आदिवासी विश्वविद्यालय में प्रोन्नत किया जा सकता है।
नेताम ने अनुरोध करते हुए कहा कि छत्तीसगढ के बस्तर संभाग में केन्द्रीय आदिवासी विश्वविद्यालय खोला जाए अथवा जगदलपुर स्थित शहीद महेन्द्र कर्मा विश्वविद्यालय को केन्द्रीय आदिवासी विश्वविद्यालय का दर्जा दिया जाए जिससे हमारे आदिवासी बच्चों को आदिवासी सभ्यता, संस्कृति, भाषा, रहन-सहन, खान-पान, चिकित्सा ज्ञान का अध्ययन कराया जा सके।

ताजा खबरों के लिए फॉलो करें- https://www.aamaadmi.in/

Follow us on- Facebook


aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button