क्वारंटाईन के बाद मौलाना साद को गिरफ़्तार करेगी पुलिस, पड़िए पूरी खबर

दिल्ली के निजामुद्दीदन मरकज में 1 से 15 मार्च के बीच हुए कार्यक्रम में देश-विदेश के 5 हजार से ज्यादा लोग शामिल हुए थे, लेकिन इसके बाद भी करीब 2000 लोग यहां रुके रहे, जबकि ज्यादातंर लॉकडाउन से पहले अपने घरों को लौट गए। मौलाना पर इस आयोजन में शामिल लोगों को कोरोना पर गुमराह करने और लोगों की जान खतरे में डालने का आरोप है। क्राइम बांच अब तक दो बार उसे नोटिस जारी कर चुकी है।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच तब्लीगी जमात के प्रमुख मौलाना साद को गिरफ्तार करने की तैयारियों में जुट गई है। सूत्रों के मुताबिक, पुलिस ने साद और FIR में नामजद सभी लोगों के खिलाफ सबूत जुटा लिए हैं, अब उनसे किसी जगह पर पूछताछ हो सकती है। क्राइम बांच अपनी टीम में डॉक्टरों को भी शामिल करेगी, जिससे मौलाना जांच में मेडिकल वजहों से बहानेबाजी नहीं कर सके। पहले सभी आरोपियों से अलग-अलग पूछताछ होगी। इसके बाद उन्हें आमने-सामने बैठाकर भी सवाल किए जाएंगे।

निजामुद्दीन मरकज़ के प्रमुख मौलाना साद नई दिल्ली के ज़ाकिर नगर इलाके में रहते हैं। मौलाना पूछताछ में सहयोग नहीं करने के लिए कई बहाने बना सकता है। वह होम क्वारैंटाइन से त़ुरंत लौटने की बात कहकर सवालों को टाल सकता है। वह यह भी कह सकता है कि 14 दिनों तक क्वारैंटाइन में होने की वजह से उसे तब्लीगी जमात के मुख्यालय की मौजूदा स्थिति पता नहीं है। 

पुलिस इन सभी पहलुओं को ध्यान में रख रही है। क्राइम ब्रांच ने क्वारैंटाइन में मौलाना की मेडिकल जांच करवाने और तब्लीगी जमात मुख्यालय से किसी तरह का दस्तावेज जब्त करने की बात पर कुछ भी बताने से इनकार किया है।साद और उसके साथियों के अग्रिम जमानत के लिए आवेदन करने की संभावना पर पुलिस ने कहा कि कानून सभी के लिए है। 

हालांकि, आरोपियों को पुलिस के सवालों का जवाब देना ही होगा। अभी पुलिस को बताया गया है कि मौलाना होम क्वारैंटाइन में हैं। हम उसके क्वारैंटाइन का समय पूरा होने का इंतजार कर रहे हैं, क्योंकि कोरोना के कारण सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना भी अहम है। पुलिस पूरी तरह से तैयार है। फिलहाल सबूत की ज्यादा जरूरत नहीं होगी। आगे की कार्रवाई आरोपियों के बयान के आधार पर होगी।

aamaadmi.in अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. aamaadmi.in पर विस्तार से पढ़ें aamaadmi patrika की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button